Judge Kaise Bane In Hindi- Salary, Jobs In 2021
Judge Kaise Bane In Hindi- Salary, Jobs In 2021
4Hindi Gyaan

Judge Kaise Bane In Hindi- Salary, Jobs In 2021

अगर आप एक जज बनना चाहते है( Become a judge in india) तो आज की ये इंफॉर्मेशन आपके लिए बहुत ही उपयोगी होगी| 

अगर आप एक न्यायाधीश बनना चाहते है तोह आपके अंदर धैर्य, गंभीरता निर्णय लेने की छमता जैसे बहुत से गुण होने चाहिये|  हम सभी जानते है कोई भी मंजिल पाना आसान बात नहीं होती क्योंकि सफलता कभी सीधे रास्तों में नहीं मिलती , और एक judge बनने के लिए  आपको अत्यधिक मेहनत और अनुभव की जरूरत होगी |

Judge Kaise Bane

भारत में  सर्वोच्च न्यायालय के न्यायाधीश पद की नियुक्ति राष्ट्रपति के द्वारा की जाती है , और मुख्य न्यायाधीश के  बाद के जजों की नियुक्ति मुख्य न्यायाधीश से सलाह लेकर  राष्ट्रपति द्वारा की जाती है और इसी प्रकार में प्रत्येक राज्यों जज पद का कार्यभार राज्यपाल के हाथ में है|

एक अच्छा जज बनने के लिए ये जानना जरूरी है की जज क्या  होता है इसकी मीनिंग क्या होती है ,अगर आप एक जज है तोह पहले सभी मुकदमों को सुने और उन पर एक  निर्णय करे | साथ -साथ आप आपमें जिम्मेदारी पूर्ण कौशल, न्याय की सही समझ, धैर्य, विश्लेषणात्मकता शुद्ध वर्तनी ,तथा एक अच्छा श्रोता होना चाहिए |

तो शुरू करते है हम आज का आर्टिकल ;

एक जज का काम होता है क़ानूनी लॉ प्रणाली की रक्षा करना और उसकी गरिमा बनाये रखना |और हम बता चुके हैआपको जज के  लिए अपने धैर्य को बनाये रक्खना होगा इसमें आपको 5  से 7 साल लग सकते है |

Courts In India

जज बनने लिए आपको ये जानना बहुत जरुरी है की हमारे देश भारत में कितने प्रकार के न्यायालय है – 

भारत में 6 प्रकार के न्यायालय है जो है – उच्चतम न्यायालय  , उच्च न्यायालय ,जिला और अधीनस्थ  न्यायालय ,ट्रिव्यूनल न्यायालय , फ़ास्ट ट्रैक कोर्ट और लोक अदालत|

भारत का सबसे बड़ा कोर्ट सुप्रीम कोर्ट होता है इसे सर्वोच्च न्यायलय भी बोलते है ये दिल्ली में स्थित है |राज्य स्तर  पर हर राज्य के लिए एक हाई  कोर्ट गया है जिसे निचली अदालत भी बोलते है|

Qualification For Judge 

अब हमें सबसे पहले जानना है की जज बनने के प्राथमिक शिक्षा क्या होती   है –

जज बनने के लिए पहले तो आपको  12th  60 %  से करना होगा उसके बाद आपको किसी अच्छे यूनिवर्सिटी से LLB का एंट्रेंस क्लियर करना होगा | LLB  की पढाई 5  साल में पूरी होती है | 

जज बनने के लिए आपकी  एक महत्वपूर्ण डिग्री  LLB  होनी चाहिए जिसका पूरा नाम( बैचलर ऑफ़ लॉ )होता है | इससे ये स्पस्ट है की आपको जज बनने के लिए आपको पहले वकील बनना पड़ेगा |अगर आप LLB  करना चाहते है तोह आपके पास बहूत  से ऑप्शन होंगे जो  LLB इंटेग्रेटेड प्रोग्राम के अंतर्गत आते हैं आप उनमें से कोई भी प्रोग्राम ले सकते है |

आप अगर  स्नातक किसी और सब्जेक्ट्स से है और आप LLB की सोच रहे है या इस फील्ड में करियर बनाना चाह रहे हैं तो आपको LLB  का 3 साल का कोर्स  पूरा करना होगा  और जज या अधिवक्ता की राह पर आगे जाना होगा |

और  आप चाहे तो( मास्टर  ऑफ़ लॉ) और Ph.D  कर  सकते है जिससे आपका अनुभव और भी बेहतर तरीके का हो जायेगा पर  किसी भी राज्य या जिला स्तरीय जज बनने के लिएआपको ये जरुरी नहीं की आप Ph. D  करें ही| आपको जज बनने से इसके लिए प्रशिक्षित  किया जाये जिसमे आपको जज बनने का कुछ अनुभव प्राप्त हो सके|इस  प्रशिक्षण के बाद आपको किसी भी न्यायालय में एक जज के पद पर नियुक्त किया जा सकता है.

Also Read: What Is BBA Course In Hindi- Fees, Salary And Jobs In 2021

सुप्रीम कोर्ट के जज बनने के लिए योग्यता 

व्यक्ति भारत का नागरिक हो | कम से कम 10  साल तक अधिवक्ता रह चुका हो , और 2  या अधिक  न्यायालय में 5 साल  तक जज रह चुका  हो| व्यक्ति राष्ट्रपति के नज़रो में एक अच्छा विधिवक्ता होना चाहिए| इसके लिए कोई  समय सीमा निर्धारित नहीं की गयी है आप 65  साल तक अपने पद पर बने रह सकते हो|और एक बार आप जज बन गए तब आपको केवल महाभियोग द्वारा ही हटाया जा सकता है| 

जैसा की हर फील्ड में अपना एक अलग ही कम्पटीशन रहता है यहाँ भी है जज बनने के लिए आपको कुछ परीक्षाएं पास करनी होगी अब हम जानेंगे वो परीक्षाएं कौन कौन सी है और कैसे  होती हैं|

जज बनने लिए आपको कानून व्यवस्था की अच्छी पकड़ बनानी होगी ,क्योंकी  जब आप जज का कार्यभार सँभालते है तो आपके ऊपर हमारे देश के पूरी न्याय व्यवस्था का उत्तरदायित्व होता है ऐसे में जरूरी है  कि आपको हमारे देश की कानून व्यवस्था और संविधान का पूर्णतः ज्ञान हो|

Judicial Service Examination

सिविल कोर्ट में जज बनने के लिए आपको  LLB  के बाद न्यायिक सेवा  परीक्षा  देनी होगी जो अलग अलग  राज्यों के लिए अलग अलग आयोजित की जाती है|

ये एग्जाम आपको  कम समय में ही आपकी मंजिल दिला सकता है अगर आप लक्ष्य से प्रेम करने वाले व्यक्ति है तो आप जरूर ही सफल होंगे इस परीक्षा में बस  अंदर लगन होनी चाहिए अपने  देश के न्याय  व्यवस्था की रक्षा करने की  अपने लक्ष्य के लिए मेहनत करने की | अगर आप पढ़ाई के साथ ही परीक्षा की तैयारी कर के इसमें सफल हो जायेंगे तो आप  एक वकील ही नहीं बल्कि एक जज बनने के काबिल भी हो सकते है | 

आप बिना किसी अनुभव के जज बनना चाहते है तोह आपको ये एग्जाम क्लियर करना होगा , ये ही एकमात्र तरीका है बिना अनुभव के जिला मजिस्ट्रेट बनने का ,ये एग्जाम राज्य लोक सेवा आयोग के अंतर्गत आयोजित की जाती है  |जिला स्तरीय अदालत में जज और मजिस्ट्रेट के पद के लिए प्रत्येक  राज्य की अपनी न्यायिक परीक्षा होती है |

कार्यकाल और सैलरी( Judge Salary)

जैसा की हम आपको बता चुके है की आप 65  साल की आयु तक अपना कार्यभार  संभाल सकते है ,अगर आप खुद किसी कारण  से नौकरी छोड़ना चाहे तोह आप राष्ट्रपति को अपना  इस्तीफा दे सकते है | जज के पद पर बैठे व्यक्ति को संसद की सिफारिश  पर उनके पद से राष्ट्रपति द्वारा हटाया जा सकता है|

अब हम बात करते है अगर आप जज बन गए है तोह आपकी सैलरी क्या  होगी तो भारत में जिला मजिस्ट्रेट की मासिक सैलरी 25000 से 65000 तक रखी  गयी है,यह अलग अलग राज्यों में भारत सरकार द्वाराअलग अलग निर्धारित की जाती है |और व्ही हम बात करें सर्वोच्च  न्यायालय  (Superme Court ) की तोह यहाँ क मुख्य  जज की आय 2. 80 लाख है और अन्य जज की salary 2. 50  लाख है.

What Is BBA Course In Hindi- Fees, Salary And Jobs In 2021

Previous article

Police Inspector Kaise Bane In Hindi [2021]

Next article

You may also like

Leave a reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *